साई बाबा नेत्र हॉस्पिटल (एसबीएच) में बुजुर्गों का अत्याधुनिक मशीन से मोतियाबिंद ऑपरेशन…

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
रायपुर/स्वराज टुडे:  साई बाबा नेत्र हॉस्पिटल द्वारा 50 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम द्वारा निशुल्क जांच शिविर दिनांक 15 जनवरी से 31 जनवरी तक प्रातः 10 से शाम 6:00 बजे तक सभी शाखाओ में किया जा रहा है। इस शिविर में लोगो की दिलचस्पी देखी जा रही है। इस शिविर के प्रथम दिन ही 100 से अधिक लोगों ने अपनी जांच कराई। इसमें अंत्योदय कार्ड धारको का नि:शुल्क मोतियाबिंद ऑपरेशन किया गया। तथा अन्य लोगों का अत्यंत कम दर में अत्याधुनिक तकनीक द्वारा मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया। इस शिविर नेत्र,डेंटल,बीपी एवं शुगर की निशुल्क जांच की जा रही है। एस बी एच हॉस्पिटल के मुख्य चिकित्सक डॉ आशीष महोबिया ने समाज से अनुरोध किया है कि वे इस शिविर की जानकारी आसपास के लोगों तक पहुंचाएं ताकि जरूरतमंदों को इसका लाभ मिल सके। यह शिविर एसबीएच हॉस्पिटल के मुख्य शाखा न्यू राजेन्द्र नगर एवं अन्य शाखाएं छोटी लाइन ओवर ब्रिज के पास फाफाडीह एवं नंदनी रोड पावर हाऊस भिलाई में किया जा रहा है
गौरतलब है कि एसबीएच नेत्र चिकित्सालय अत्याधुनिक तकनीक के साथ स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करता है जहां ग्लूकोमा और मोतियाबिंद जैसी बीमारियों की जाँच और उपचार की सुविधा भी उपलब्ध है, मोतियाबिन्द के उपचार में आधुनिक दर्दरहित पद्धति का उपयोग किया जाता है।
इसके अलावा एसबीएच हॉस्पिटल का स्त्री रोग विभाग भी अपने बेहतरीन स्वास्थ्य सेवाओं के लिए जाना जाता है, जहां स्त्री रोग विशेषज्ञों की टीम महिलाओं की जांच एवं प्रसूति समेत निःसंतानता के उपचार के लिए भी सदैव तत्पर हैं।
इसके साथ ही एसबीएच हॉस्पिटल के त्वचा रोग और कॉस्मेटिक्स विभाग में लेज़र द्वारा त्वचा का उपचार तथा एंटी एजिंग उपचार, बालों का झड़ना जैसी समस्याओं के लिए त्वचा रोग विशेषज्ञों की टीम भी उपलब्ध है।
अत्याधुनिक मशीनों और अनुभवी डॉक्टरों के साथ एसबीएच हॉस्पिटल पिछले दो दशकों से भी अधिक समय से रायपुर में नेत्र व स्त्री रोग चिकित्सा के क्षेत्र में अपनी सेवाएँ दे रहा है जिससे अनगिनत मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य मिला है और उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव आए हैं।
रायपुर के न्यू राजेन्द्र नगर में आधुनिक सुविधाओं से युक्त वृहद परिसर में एसबीएच हॉस्पिटल का संचालन हो रहा है जहां अनुभवी नेत्र रोग विशेषज्ञ अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं।
आपको बता दें कि एसबीएच हॉस्पिटल में शंकर नेत्रालय (चेन्नई), KEMH (मुंबई), SVDH (पुणे), एल वी प्रसाद नेत्र चिकित्सालय (हैदराबाद), अरविंद नेत्र चिकित्सालय (मदुरई), पूर्व AIIMS रेसी ग्रोवर अस्पताल (दिल्ली) और AIIMS (दिल्ली), जैसे मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल के अनुभवी डॉक्टर अपनी सेवाएँ दे रहे हैं जिससे एक ही छत के नीचे रेटिना, कॉर्निया, मोतियाबिंद, ग्लूकोमा, कॉर्नियल टोपोग्राफी, आँखों का तिरछापन, मायोपिया आदि का बेहतर उपचार हो रहा है।

यह भी पढ़ें: बाल काटने वाले ने चुना यह काम, प्रतिदिन कमाने लगा 2 लाख, फिर एक दिन जो हुआ….

यह भी पढ़ें: साइबर ठगों ने जज को भी नहीं छोड़ा, ऐसे लगाया 65 हजार का चूना

यह भी पढ़ें: 2500 सालों तक राम मंदिर पर नहीं होगा भूकंप का असर, जानें रामलला के मंदिर से जुड़ी खास बातें

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
822SubscribersSubscribe

पहली बीवी के रहते दूसरी से किया निकाह.. फिर दो बच्चे...

उत्तरप्रदेश बरेली/स्वराज टुडे: देश में तीन तलाक पर कड़े कानून लागू कर दिए जाने के बावजूद तलाक देने के सिलसिले पर लगाम लगती नजर नहीं...

Related News

- Advertisement -