संदेशखाली पहुंची CBI, एक सुनसान घर में छापे के दौरान जो मिला….बुलानी पड़ी NSG की टीम

- Advertisement -

कोलकत्ता/स्वराज टुडे: संदेशखाली कांड पर केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को कई इलाकों में तलाशी अभियान चलाया. जांच एजेंसी को वहां के एक घर से भारी मात्रा में खतरनाक हथियार मिले है.

एजेंसी को एक घर से 12 बंदूकें, 5 पिस्टल और 128 गोलियों सहित कई अन्य हथियार मिले हैं. वहीं जांच के खिलाफ राज्य की ममता सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है. मामले पर 29 सुनवाई होगी. जिसके घर से हथियार बरामद हुए हैं, शख्स टीएमसी के नेता हफीज़ुल खान का संबंधी है और शाहजहां शेख़ का भी करीबी बताया जाता है.

सीबीआई द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर रेड मारी गई थी. वहां पर एक घर से बड़ी संख्या में हथियार मिले हैं. सूत्रों के अनुसार 12 बंदूकें जिसमें विदेशी भी शामिल हैं, 128 गोलियां और पिस्टल मिले हैं. ये सारे हथियार सरबेड़िया के अबु तालेब नाम के शख्स के घर से बरामद हुए हैं. ये भारी मात्रा में हथियार मिलने के बाद से अफरातफरी मच गई है, मौके पर एनएसजी की टीम को बुलाया गया है. एनएसजी पूरे इलाक़े को घेर रही है.

सूत्रों से मिले जानकारी के अनुसार, यह तलाशी अभियान तृणमूल कांग्रेस के नेता रहे शाहजहां शेख के समर्थकों द्वारा प्रवर्तन निदेशालय की टीम पर हमला किए जाने की घटना से जुड़ा है. ईडी की टीम पर पांच जनवरी को संदेशखाली में उस समय हमला किया गया था जब वह कथित ‘राशन घोटाले’ के सिलसिले में शेख के परिसर पर छापा मारने गई थी. सीबीआई को गुप्त सूचना मिली थी कि संदेशखाली में भारी मात्रा में हथियार छिपाए गए हैं. इसके बाद शुक्रवार सुबह सीबीआई की टीम ने तलाशी अभियान प्रारंभ किया और उसे विदेश निर्मित पिस्तौल सहित हथियार बरामद हुए.

वहीं, संदेशखाली मामले पर पश्चिम बंगाल की ममता सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. सरकार ने सीबीआई जांच के आदेश के खिलाफ याचिका दायर की है. शीर्ष कोर्ट इस मामले पर 29 अप्रैल को सुनवाई करेगी. कलकत्ता हाईकोर्ट ने ममता सरकार को जोरदार झटका देते हुए संदेशखाली केस को सीबीआई को सौंप दिया था.

यह भी पढ़ें: कहीं और तय हो गई गर्लफ्रेंड की शादी, आखरी बार मिलने प्रेमी ने बुलाया अपने घर, उसके बाद जो हुआ…

यह भी पढ़ें: देश के पहले ही चुनाव में दूध बेचने वाले से हार गए थे संविधान निर्माता अंबेडकर, सदमे में हो गई थी मौत; जानें क्या हुआ था खेला

यह भी पढ़ें: पहले दिया तीन तलाक, फिर मामा के लड़के से जबरन कराया हलाला, अब दुबारा अपनाने से भी मुकरा

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
820SubscribersSubscribe

याचिकाकर्ता दो बिजली कर्मचारियों को हाई कोर्ट से मिली बड़ी राहत

छत्तीसगढ़ बिलासपुर/स्वराज टुडे:  बिजली कंपनी से सेवानिवृत हुए दो कर्मचारियों की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने एक महीने के भीतर दोनों याचिकाकर्ताओं...

Related News

- Advertisement -