मिस्ड पीरियड के कारण, टीनएज लड़कियों के लिए जानना बहुत जरूरी

- Advertisement -

ज्यादातर लड़कियों को प्यूबर्टी (15-18) की उम्र में पीरियड शुरू हो जाती है। यह एक ऐसी उम्र है जिस दौरान एक लड़की में बहुत तरह के शारीरिक और भावनात्मक बदलाव आते हैं।

साथ ही, वह लड़की एक टीनएजर ऐज में आ जाती है। माहवारी को पीरियड भी कहते हैं। पीरियड महीने में एक बार आता है, पीरियड एक प्राकृतिक प्रक्रिया है जिसकी सही जानकारी हर लड़की और महिला को होनी चाहिए। आमतौर पर पीरियड्स के समय 2-7 दिनों तक ब्लीडिंग होती है।

Missed period होने के कुछ कारण

1. गर्भावस्था

मिस्ड पीरियड का सबसे सामान्य कारण गर्भावस्था है। यदि किसी महिला का मासिक धर्म नियमित रूप से आ रहा था और अचानक से बंद हो गया, और वह सेक्सुअली एक्टिव है तो सबसे पहले गर्भावस्था की जाँच करनी चाहिए।

2. तनाव और मानसिक स्वास्थ्य

अत्यधिक तनाव, चिंता या मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं के कारण भी मासिक धर्म प्रभावित हो सकता है। तनाव के कारण शरीर में हार्मोनल असंतुलन हो सकता है, जिससे पीरियड्स मिस हो सकते हैं।

3. हार्मोनल असंतुलन

थायरॉयड समस्याएं, पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (PCOS) और अन्य हार्मोनल विकार भी मासिक धर्म को प्रभावित कर सकते हैं। हार्मोनल असंतुलन के कारण मासिक चक्र अनियमित हो सकता है।

4. वजन में परिवर्तन

अचानक वजन बढ़ना या कम होना, अत्यधिक डाइटिंग या बहुत अधिक व्यायाम करने से भी मासिक धर्म प्रभावित हो सकता है। वजन में परिवर्तन के कारण शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर बदल सकता है, जो मासिक चक्र को प्रभावित कर सकता है।

5. स्वास्थ्य समस्याएं और बीमारियाँ

कुछ स्वास्थ्य समस्याएँ, जैसे डायबिटीज, सीलिएक रोग और अन्य क्रोनिक बीमारियाँ भी मासिक धर्म को प्रभावित कर सकती हैं। इसके अलावा, पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (PID) और यूटेरिन फाइब्रॉयड्स भी कारण हो सकते हैं।

6. ओवरियन फेलियर

प्रारंभिक ओवेरियन फेलियर (Premature Ovarian Failure) या मेनोपॉज की शुरुआत भी मासिक धर्म के मिस होने का कारण हो सकता है। यह स्थिति आमतौर पर 40 साल से कम उम्र की महिलाओं में होती है।

7. मेडिकेशन और गर्भनिरोधक

कुछ दवाएँ, जैसे एंटीडिप्रेसेंट्स, एंटीप्साइकोटिक्स, कीमोथेरपी और अन्य हार्मोनल दवाएँ मासिक धर्म को प्रभावित कर सकती हैं। इसके अलावा, कुछ गर्भनिरोधक गोलियाँ या डिवाइस भी मासिक चक्र को बदल सकते हैं।

8. जीवनशैली और यात्रा

जीवनशैली में बड़े बदलाव, जैसे यात्रा, रात की शिफ्ट में काम करना या समय क्षेत्र बदलने से भी मासिक चक्र प्रभावित हो सकता है। यदि आपका मासिक धर्म अनियमित हो रहा है या मिस्ड पीरियड्स बार-बार हो रहे हैं, तो आपको डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए। सही कारण का पता लगाना और उचित उपचार करना महत्वपूर्ण है।

Disclaimer: इस  लेख में मौजूद कंटेंट केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के उचित निराकरण के लिए हमेशा चिकित्सा विशेषज्ञों की सलाह लें ।

यह भी पढ़ें: कहीं टीनएज डिप्रेशन से तो नहीं जूझ रहा आपका बच्चा ? इन लक्षणों से करें पहचान

यह भी पढ़ें: अपने टीनएज बच्चों की एंग्जायटी से सावधानी से करें डील, अपनाएं ये तरीका

यह भी पढ़ें: सिटी डेंटल हॉस्पिटल टीम ने शुरू की सेहतभरी मुहिम, आइए करें अपनी दांतों की सुरक्षा का संकल्प….दांतों को सुरक्षित रखना है तो रात को ब्रश करके ही सोना है- डॉ. सरफराज

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
826SubscribersSubscribe

कोरबा लोकसभा से दूसरी बार निर्वाचित सांसद ने ली पद व...

नई दिल्ली/स्वराज टुडे: छत्तीसगढ़ राज्य के कोरबा लोकसभा क्षेत्र क्रमांक 04 से दूसरी बार निर्वाचित हुईं सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने 22 जून को...

Related News

- Advertisement -