‘PM मोदी ने राम मंदिर मामले में उत्तर प्रदेश और देश को बड़े संकट में डाल दिया’

- Advertisement -

ओड़िसा
पुरी/स्वराज टुडे: वर्द्धनमठ पुरी पीठाधीश्वर श्रीमज्जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी श्री निश्चलानन्द सरस्वती महाराज ने धार्मिक नगरी उज्जैन में तीन दिवस के लिए धर्म सभा करने पधारे हैं। यहां उन्होंने पहले दिन कहा कि राम मंदिर निर्माण मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश को एक बड़े खतरे में डाल दिया है, क्योंकि अयोध्या में इन दिनों पूरे देश से अच्छी नंबर वन मस्जिद बनाने की तैयारी की जा रही है और ये आने वाली पीढ़ी के लिए बहुत बड़ा खतरा साबित होगी।

पुरी शंकराचार्य स्वामी श्री निश्चलानंद सरस्वती जी प्रश्नोत्तरी के माध्यम से धर्म चर्चा कर रहे थे। राम मंदिर निर्माण के परिणाम के पर एक सवाल का जबाव देते हुए शंकराचार्य जी ने कहा, कोर्ट ने ये कैसा न्याय किया कि आपका अधिकार तो नहीं बनता। लेकिन उपहार स्वरुप मस्जिद निर्माण के लिए पांच एकड़ जमीन दे रहे हैं। यह शब्द न्यायालय के नहीं, लेकिन राजनीति की भाषा जरूर हो सकती है।

शंकराचार्य स्वामी श्री निश्चलानंद ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर मौके का श्रेय प्राप्त करने में माहिर हैं। राम मंदिर मामले में भी श्रेय लेने की जल्दबाजी में गलत निर्णय हुआ। सरकार ने मस्जिद बनाने की बात कहकर मामला और उलझाया है। मुस्लिम पक्ष ने धैर्य रखा, चुप रहकर मंदिर निर्माण का नक्शा व अन्य जानकारी लेने के बाद देश की सबसे बड़ी मस्जिद बनाने की तैयारी कर ली है। अब वे आसपास और जमीनें खरीद रहे हैं और बड़े स्तर पर मस्जिद निर्माण की तैयारी कर रहे हैं। कुटनीतिक मामले में मुस्लिमों से नेहरु से लेकर मोदी जी तक पछाड़ खा गए।

पूर्व पीएम नरसिंह राव भी निकाल चुके थे यह हल

शंकराचार्य स्वामी श्री निश्चलानंद जी ने कहा, तत्कालीन प्रधानमंत्री पीवी नरसिंह राव भी इस समस्या का हल मंदिर-मस्जिद अलग-अलग कर निकाल चुके थे। उन्होंने इस तरह के समझौते पर उनके हस्ताक्षर के प्रयास भी किए थे। लेकिन उन्होंने हस्ताक्षर से इनकार कर दिया था कि ये न्याय नहीं है। पहले ये सरकारी स्तर पर हो रहा था, अब इसे न्यायालीन रूप में लाया गया है। लेकिन इस फैसले ने न सिर्फ उत्तर प्रदेश, बल्कि पूरे देश को एक बड़े संकट में डाल दिया है।

धर्म परिवर्तन मुद्दे पर कहा- सनातन मजबूत

एक सवाल के जबाव में स्वामी श्री निश्चलानंद जी ने कहा कि धर्म परिवर्तन इतना आसान नहीं है। प्रश्नकर्ता ने कहा कि कुछ लोग ईसाई धर्म अपनाकर हिंदुओं को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। इस पर शंकराचार्य जी ने कहा कि सनातन धर्म बहुत मजबूत है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
822SubscribersSubscribe

पहली बीवी के रहते दूसरी से किया निकाह.. फिर दो बच्चे...

उत्तरप्रदेश बरेली/स्वराज टुडे: देश में तीन तलाक पर कड़े कानून लागू कर दिए जाने के बावजूद तलाक देने के सिलसिले पर लगाम लगती नजर नहीं...

Related News

- Advertisement -