फोरलेन सड़क निर्माण ठेकेदार की मनमानी से जनता हलाकान, अधिकारी मौन

- Advertisement -

कोरबा से उरगा से चांपा के मध्य फोरलेन सड़क निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार और उनके अधीनस्थ कर्मियों की मनमानी की वजह से इस मार्ग से आवागमन करने वाली जनता हलाकान है।

सड़क निर्माण के दायरे में आने वाले पुल-पुलिया के लिए डायवर्टेड सड़क निर्माण में अपनी मनमानी की गई है। कच्ची डाइवर्ट सड़क के ऊपर डामरीकरण नहीं करने का खामियाजा इस बरसात में जनता भुगत रही है।

ठेकेदार के द्वारा पिछले दिनों किया गया झूठ आश्वासन सिरदर्द बन गया है। भरोसा करने वाली जनता और जनप्रतिनिधि हलाकान हैं वहीं विभागीय अधिकारी इस पूरे मामले में खामोश हैं। इनके उदासीन रवैए और निगरानी में कमजोर प्रदर्शन को लेकर जनता में आक्रोश है। अभी बारिश के दौरान इस सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं और कीचड़ भी निर्मित हो रहा है। इन मार्गो से दो पहिया – चार पहिया और सभी तरह के वाहनों के गुजरने के साथ-साथ पैदल चलने वालों को भी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है।

यह हालात तब हैं जब इसी सड़क के डायवर्टेड मार्ग का डामरीकरण करने व कार्य की गति तेज करने की मांग को लेकर भाजपा अजा मोर्चा के महामंत्री अजय कंवर के नेतृत्व में बरपाली में आर्थिक नाकाबंदी की गई थी। इस नाकाबंदी में क्षेत्र के विधायक पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर भी ग्रामीणों के साथ शामिल हुए। यहां कोरबा एसडीएम हरिशंकर पैकरा के निर्देश पर बरपाली तहसीलदार आराधना प्रधान, उरगा थाना प्रभारी राजेश कुमार जांगड़े की मौजूदगी में निर्माणकर्ता ठेका कंपनी गावर कंस्ट्रक्शन के जीएम पीयूष मदान के साथ समझौता हुआ।

समझौते में स्पष्ट कहा गया है कि डामरीकरण में टूट-फूट होने अथवा उखड़ने पर ठेकेदार द्वारा पुनः निर्माण कराया जाएगा। सड़क के पानी की निकासी की पूरी जिम्मेदारी ठेकेदार की होगी। 16 जून 2022 को किए गए इस समझौते के बाद भी हालात जस के तस हैं, बल्कि बरसात में जगह-जगह गड्ढे और उनमें भरा पानी हादसों की वजह बनने के साथ-साथ वाहनों की दशा भी बिगड़ने लगा है। आखिर इन सबकी जिम्मेदारी ठेकेदार की नजरअंदाजी और जिम्मेदार निगरानीकर्ता अधिकारियों की ही तो है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
505FansLike
50FollowersFollow
814SubscribersSubscribe

तालाब को गहरा करने के लिए चल रही थी खुदाई, तभी...

मध्यप्रदेश आगर/स्वराज टुडे: मध्यप्रदेश के आगर मालवा के एक तालाब का गहरीकरण किया जा रहा था. JCB से खुदाई की जा रही थी. खुदाई के...

Related News

- Advertisement -