सरबजीत सिंह के हत्यारे तांबा के मर्डर से हिल गई पाकिस्तानी कैबिनेट, क्या रॉ है टारगेट किलिंग का मुख्य सूत्रधार ?

- Advertisement -

नई दिल्ली/स्वराज टुडे: सरबजीत सिंह के हत्यारे के मर्डर से पाकिस्तान हिल गया है. पाकिस्तान मीडिया के बाद सरकार भी इसके पीछे भारत का हाथ होने का रट लगाए हुए है. पाक के मंत्री मोहसिन नकवी ने लाहौर में आईएसआई गुर्गे तांबा की हत्या में भारत की संलिप्तता की बात कही है. आखिर भारत के मोस्ट वांटेड आतंकियों की एक के बाद एक हत्याएं कौन कर रहा है . उन्होंने कहा कि इसके पीछे कौन हैं इसकी जांच जारी है.

नकवी ने लाहौर में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, जहां सरफराज रहता था वहां उन पर दो मोटरसाइकिल सवार हमलावरों द्वारा किया गया घातक हमला एक पैटर्न को दिखाता है. उन्होंने कहा, पाकिस्तान की धरती पर चार अन्य हत्याओं में भारत के शामिल होने का संदेह है. हम आगे बयान देने से पहले जांच के निष्कर्ष का इंतजार कर रहे हैं. पाकिस्तान के इस आरोप पर भारत सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई.

अज्ञात बाइक सवारों ने किया हमला

पुलिस ने कहा कि तांबा लाहौर के इस्लामपुरा इलाके में अपने घर पर था जब हमलावर आए. जैसे ही उसने दरवाजा खोला उन्होंने उसे नजदीक से गोली मार दी. तांबा के भाई जुनैद सरफराज की शिकायत के आधार पर पुलिस ने अज्ञात बाइक सवारों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. पंजाब सरकार ने मामले को पुलिस के आतंकवाद-रोधी विभाग, जो कि आईएसआई का मुखौटा है, को सौंप दिया.

सरबजीत सिंह की जेल में हुई थी हत्या

तांबा और उसके कथित साथी मुदासिर मुनीर ने अप्रैल 2013 में कोट लखपत जेल में सरबजीत सिंह पर ईंटों और लोहे की छड़ों से जानलेवा हमला किया था. सिंह को जासूसी करने का दोषी ठहराए जाने के बाद मौत की सजा सुनाई गई थी. 2001 के संसद हमले के मास्टरमाइंड अफजल गुरु को भारत द्वारा फांसी दिए जाने के दो महीने बाद सरबजीत की हत्या कर दी गई थी.

14 दिसंबर, 2018 को लाहौर की एक सत्र अदालत ने तांबा और मुनीर को सिंह की हत्या के आरोप से बरी कर दिया था. 45 वर्षीय तांबा अविवाहित था और अपने भाइयों के साथ रहता था. वह मसाला व्यापारी था और लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद का करीबी माना जाता था.

यह भी पढ़ें: होटल में हुई कालगर्ल की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई, 4 आरोपी गिरफ्तार..2 की तलाश जारी

यह भी पढ़ें: कोरबा से पुरी जा रही बस दुर्घटनाग्रस्त, दो लोगों की मौत.. दर्जनों घायल

यह भी पढ़ें: हिंदू राष्ट्र के लिए सडकों पर उतरे नेपाल के लोग, पुलिस ने बरसाई जमकर लाठियां

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
814SubscribersSubscribe

संजीवनी बूटी से कम नहीं है अर्जुन की छाल, खुल जाती...

जब हृदय की धमनियों में बैड कोलेस्ट्रॉल जमने लगता है तब लोगों को हार्ट ब्लॉकेज और दिल से जुड़ी बीमारियों की समस्या होने लगती...

Related News

- Advertisement -