वर्ल्ड कप U19: ऑस्ट्रेलिया चौथी बार बनी चैंपियन, पहली बार भारत को फाइनल में हराया

- Advertisement -

नई दिल्ली/स्वराज टुडे: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच साउथ अफ्रीका के बेनोनी में खेले गए फाइनल मैच में भारत को हार का सामना करना पड़ा। टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज आदर्श सिंह (47) के अलावा भारत का कोई भी दूसरा बल्लेबाज क्रीज पर नहीं टिक पाया।

मुशीर खान, उदय सहारन और सचिन धास खराब शॉट खेलकर पवेलियन लौट गए। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। कंगारूओं ने निर्धारित 50 ओवर में अंडर 19 वर्ल्ड कप फाइनल के इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर 253 रन बना दिया। जिसके जवाब में भारत सिर्फ 174 ही बना पाया और फाइनल गंवा दिया। भारत को फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने 79 रन से हराया।

पहली बार ऑस्ट्रेलिया ने भारत को फाइनल में हराया

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 2012 में पहली बार वर्ल्ड कप का फाइनल खेला गया था। जिसमें भारतीय टीम ने कंगारुओं को फाइनल में हराकर खिताब अपने नाम किया था। इसके बाद 2018 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एक बार फिर खिताबी जंग देखने को मिली थी। लेकिन इस बार भी भारत फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को हराकर वर्ल्ड चैंपियन बना था। फिर अंडर 19 वर्ल्ड कप 2024 का फाइनल तीसरी बार है जब दोनों टीमों के बीच आमना-सामना हुआ और इस बार ऑस्ट्रेलिया ने भारत को फाइनल में हराकर पिछली दोनों हार का बदला ले लिया।

ऑस्ट्रेलिया ने एक साल में तीसरी बार दी मात

यह तीसरी बार है जब भारतीय टीम को बड़े इवेंट में ऑस्ट्रेलिया के हाथों मुंह की खानी पड़ी है। इससे पहले जून 2023 में सीनियर भारतीय टीम और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2023 का फाइनल खेला गया था। जिसमें भारत को हार का मुंह देखना पड़ा था। इसके बाद उसी साल नवंबर 2023 में भारत में खेले गए वनडे वर्ल्ड कप 2023 में ऑस्ट्रेलिया ने एक बार फिर फाइनल मुकाबले में भारत को हरा दिया था। भारतीय फैंस अभी तक उस हार से पूरी तरह से उभर भी नहीं पाए थे कि एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया ने भारत का वर्ल्ड कप जीतने का सपना चकनाचूर कर दिया।

पूरे टूर्नामेंट में अजेय था भारत

फाइनल से पहले भारत इस टूर्नामेंट में एक भी मैच नहीं हारा था। कप्तान उदय सहारन, मुशीर खान, सचिन धास ने पूरे टूर्नामेंट में बेहतरीन बल्लेबाजी की थी। वहीं गेंदबाजी में राज लिंबानी, सौम्य पांडे और नमन तिवारी की गेंदों के सामने कोई भी बल्लेबाज टीक नहीं पाया था। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के सामने भारतीय बल्लेबाज ताश के पत्तो की तरह ढह गए। सेमीफाइनल में भी भारत ने कमाल का प्रदर्शन किया था। भारत की और से कप्तान उदय सहारन और सचिन धास ने बल्लेबाजी में कमाल का प्रदर्शन किया था। हालांकि फाइनल में इस हार का जख्म भारतीय फैंस को काफी समय तक रहने वाला है। क्योंकि एक ही साल में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत को 3 बार फाइनल में शिकस्त दी है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
822SubscribersSubscribe

पहली बीवी के रहते दूसरी से किया निकाह.. फिर दो बच्चे...

उत्तरप्रदेश बरेली/स्वराज टुडे: देश में तीन तलाक पर कड़े कानून लागू कर दिए जाने के बावजूद तलाक देने के सिलसिले पर लगाम लगती नजर नहीं...

Related News

- Advertisement -