राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम शिविर में बच्चो का हुआ निःशुल्क स्वास्थ्य जांच एवं उपचार

- Advertisement -

जिले के 12 चिरायु दलों द्वारा एक से 18 वर्ष के 94 मरीजों का किया गया स्वास्थ्य परीक्षण

कोरबा/स्वराज टुडे: राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जिले में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय संबध्द चिकित्सालय तथा जिला स्वास्थ्य समिति के समन्वय से शिविर का आयोजन जिला चिकित्सालय कोरबा में किया गया। शिविर में आरबीएसके योजना अंतर्गत कोरबा जिले मे कार्यरत 12 चिरायु दलो द्वारा एक से 18 वर्ष के विभिन्न श्रेणी के अंतर्गत चिन्हांकित 94 बच्चो का निःशुल्क जांच एवं उपचार किया गया। जिला नोडल अधिकारी आरबीएसके डॉ. कुमार पुष्पेश ने बताया कि बच्चो के स्वास्थ्य परीक्षण उपरांत 6 बच्चे जन्मजात हदय रोग से पीडित पाये गये है। जिनका उपचार रायपुर के अस्पताल में किया जाएगा।

इसी प्रकार 12 बच्चे न्यूरोमोटर इन्पेयरमेंट से पीडित, एक बच्चा न्यूरोट्यूब डिफेक्ट, 11 बच्चे दृष्टि दोष युक्त, दो बच्चे कागनेटिव डिले, एक बच्चा मोतियाबिंद से पीडित, 15 बच्चे श्रवण बाधित, 12 बच्चे अस्थि रोग तथा 39 बच्चे अन्य रोग से पीडित पाये गये। उक्त चिन्हांकित बच्चों का निःशुल्क जांच एवं उपचार किया जाएगा।
डॉ. कुमार पुष्पेश ने बताया कि शिविर में विभिन्न विशेषज्ञ चिकित्सकों ने स्वास्थ्य जांच एवं इलाज में योगदान दिया। इनमंे मेडिसिन डॉ. प्रितेश मसीह, अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉ. जी.एस. दिवान, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. स्मिता सोनी, नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. अंकिता सोना, नाक-कान-गला रोग विशेषज्ञ डॉ. सुजाता श्रीवास्तव, दंत रोग विशेषज्ञ डॉ. भारती चन्द्रा एवं फिजियोथेरपिस्ट श्री पवन पटेल शामिल है।

जिला मुख्यालय से दूर वनांचल एवं पहाडी क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग के चिरायु दल द्वारा बच्चो का स्वास्थ्य जांच एवं गंभीर बीमारी से पीडित बच्चो का चिन्हांकन कर बेहतर उपचार के लिए सेवाएं प्रदान की जा रही है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
505FansLike
50FollowersFollow
814SubscribersSubscribe

तालाब को गहरा करने के लिए चल रही थी खुदाई, तभी...

मध्यप्रदेश आगर/स्वराज टुडे: मध्यप्रदेश के आगर मालवा के एक तालाब का गहरीकरण किया जा रहा था. JCB से खुदाई की जा रही थी. खुदाई के...

Related News

- Advertisement -