मुस्लिम समुदाय ने स्कूल प्रबंधन से कहा- हमारी आबादी 75 प्रतिशत, वही होगा जो हम चाहेंगे …फिर बदल दिए गए वर्षों पुराना ये नियम

- Advertisement -

झारखंड
गढ़वा/स्वराज टुडे: झारखंड के गढ़वा (Garhwa) में धर्म के नाम पर शिक्षण संस्थानों में मनमानी का मामला सामने आया है।

यहां मुस्लिम समुदाय ( Muslim Community) के लोगों द्वारा सालों से चली आ रही प्रार्थना को भी सांप्रदायिकता का रंग दिया जा रहा है। यहां माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक पर ग्रामीणों ने दबाव देकर कहा कि स्थानीय स्तर पर मुस्लिम समाज की आबादी 75 प्रतिशत है, इसलिए नियम भी हमारे अनुरूप ही बनाने होंगे। स्कूल की प्रार्थना भी हमारे हिसाब से होगी (School Prayer)। मुस्लिम समाज के दबाव के आगे आखिरकार प्रधानाध्यापक को झुकना पड़ा और फिर वर्षों से स्कूल में चली आ रही प्रार्थना को बदल दिया गया।

अब दया कर दान …की जगह तू ही राम तू ही रहीम..

अब दया कर दान… प्रार्थना को बंद करवा कर तू ही राम, तू ही रहीम है…प्रार्थना शुरू करा दी गई है। इतना ही नहीं प्रार्थना के दौरान बच्चों को हाथ जोड़ने से भी मना कर दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ग्रामीणों की जिद के आगे विवश प्रधानाध्यापक अब यहां बदले रूप में प्रार्थना करवा रहे हैं। उन्होंने इसकी जानकारी कोरवाडीह पंचायत के मुखिया और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दी है।

प्रधानाध्यापक युगेश राम का कहना है कि पिछले चार महीने से मुस्लिम लोगों ने स्कूल में जबरन प्रार्थना को बदलवा दिया है। कई बार मुस्लिम समुदाय के युवक इस मुद्दे पर स्कूल में आकर हंगामा कर चुके हैं।

स्कूल संचालन में हस्तक्षेप न करने को समझाया गया पर नहीं माने ग्रामीण

प्रधानाध्यापक द्वारा सूचना दिए जाने पर मुखिया शरीफ अंसारी ने हंगामा करने वाले मुस्लिम समुदाय के युवकों को स्कूल संचालन में किसी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं किए जाने के लिए समझाया लेकिन ग्रामीण जब नहीं माने तो मुखिया ने गांव वालों के अनुसार ही प्रधानाध्यापक को स्कूल संचालन की सलाह दी।

प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी ने दिए जांच के आदेश

मामले में प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी कुमार मयंक भूषण का कहना है कि स्कूल में प्रार्थना सभा को अपने हिसाब से कराने को लेकर विद्यालय के शिक्षकों को मजबूर किए जाने की सूचना मिली है। इसकी जांच कराई जाएगी। सरकारी आदेश की अवहेलना करने की किसी को इजाजत नहीं दी जाएगी।

मुखिया शरीफ अंसारी ने दिया यह आश्वासन

इधर मुखिया शरीफ अंसारी ने सोमवार को कहा कि मुझे इसकी जानकारी आज ही मिली है। मैं मंगलवार को विद्यालय प्रबंधन समिति एवं ग्रामीणों की बैठक कर इसका समाधान करने का प्रयास करूंगा।किसी भी कीमत पर गंगा-जमुनी तहजीब को बरकरार रखा जाएगा।

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने दिए कार्रवाई के निर्देश

झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने गढ़वा के कोरवाडीह में मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा दबाव डालकर स्कूल की प्रार्थना बदलने के मामले को गंभीरता से लिया है। गढ़वा के उपायुक्त को फोन कर इस मामले में सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
813SubscribersSubscribe

जयमाला के दौरान दूल्हे ने दुल्हन के साथ कर दी गंदी...

उत्तरप्रदेश हापुड़/स्वराज टुडे: उत्तर प्रदेश के हापुड़ में एक दूल्हे को उसकी हरकत बहुत महंगी पड़ गई. दरअसल जयमाला के दौरान स्टेज पर ही दूल्हे...

Related News

- Advertisement -