माचिस जलाते ही हुआ जोरदार धमाका, दो बच्चों और पिता की मौत, मां की हालत गंभीर

- Advertisement -

पंजाब
जालंधर/स्वराज टुडे:
पंजाब के जालंधर में एक घर में शुक्रवार की सुबह करीब पौने सात बजे सिलिंडर में धमाका हो गया।

हादसे में व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दो बच्चों ने अस्पताल में में दम तोड़ दिया। मृतकों की पहचान राजकुमार उर्फ राजा (35) निवासी गांव पिपरा जमनी, भागलपुर बिहार और दो बेटे डेढ़ साल के अंकित और पांच साल के नैतिक के रूप में हुई है। जबकि राजा की पत्नी प्रिया की हालत नाजुक बनी हुई है। वह 80 फीसदी झुलस चुकी है। हादसा लम्मा पिंड इलाके का है।

किचन में हुई जरा सी चूक और चली गई तीन जानें

पुलिस के मुताबिक गुरुवार रात खाना बनाने के बाद प्रिया गैस बंद कर चली गई लेकिन गैस ठीक से बंद नहीं हुआ और किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। रातभर सिलिंडर से गैस लीक होती रही। सुबह उठकर जैसे ही प्रिया ने गैस स्टोव जलाने के लिए माचिस जलाई तो धमाका हो गया और घर में आग लग गई।

अपने बुजुर्ग माता-पिता की आंखों का तारा था राजकुमार

जालंधर के टीवी टावर में रह रही इंदू देवी मृतक राजकुमार उर्फ राजा की मुंह बोली बहन है और ताया के लड़के कैलाश के साथ शहर के दूसरे छोर पर रहती है। जब उन्हें सुबह सात बजे के करीब राजा की मौत की सूचना मिली तो आधे घंटे में वह घटनास्थल पर पहुंच गई। नम आंखों से इंदू ने बताया कि राजकुमार घर में अकेला है, उसके पिता विनोद राय (61) और मां गंगिया देवी (54) ने सिर्फ बेटा ही नहीं खोया, बल्कि आंख के तारे नाती अंकित और नैतिक का भी साथ छूट गया। अब उनके बुढ़ापे का सहारा कौन बनेगा।

अपने बच्चों का भविष्य संवारने जी तोड़ मेहनत करता था राजकुमार

राजा के पिता गांव में खेती करते थे। जालंधर में राजकुमार जीएमटी सिलाई खाना में काम करता था। राजकुमार की पत्नी प्रिया घर का काम करती थी। पैसों के तंगी के कारण पांच साल के बेटे नैतिक को न पढ़ाने का मलाल उसे अक्सर रहता था और वह दोगुनी मेहनत कर बच्चों का भविष्य संवारना चाहता था, ताकि मजदूर का बेटा मजदूर न बने। कैलाश ने बताया कि राजकुमार की सात साल पहले ही शादी हुई थी। थोड़ी परेशानियां पर वह कभी हार नहीं मानता था लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था।

अस्पताल में बेसुध प्रिया को पता ही नहीं, उजड़ गया है संसार

घटना के बाद बेसुध प्रिया की हालत गंभीर है और सिविल अस्पताल जालंधर में उसका इलाज चल रहा है। प्रिया को एक बार होश आया तो उसने पति और बच्चों के बारे में पूछा। कोई कुछ बता पाता कि फिर से वह बेसुध हो गई। जिंदगी ने किस तरह का खेल खेला है, स्ट्रैचर पर लेटी बेसुध प्रिया को नहीं पता कि उसका संसार उजड़ गया है। पति की मौत के बाद दोनों बच्चे भी उसे अकेला छोड़ गए हैं। मुंहबोली बहन इंदू ने कहा कि प्रिया को किस मुंह से बताते की पति और बच्चों की मौत हो चुकी है।

 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
826SubscribersSubscribe

कोरबा लोकसभा से दूसरी बार निर्वाचित सांसद ने ली पद व...

नई दिल्ली/स्वराज टुडे: छत्तीसगढ़ राज्य के कोरबा लोकसभा क्षेत्र क्रमांक 04 से दूसरी बार निर्वाचित हुईं सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने 22 जून को...

Related News

- Advertisement -