मजदूर के खाते में आए 31 अरब रुपए, खबर मिलते ही परिवार में मची हलचल, जानें पूरा मामला

- Advertisement -

उत्तर प्रदेश
कन्नौज/स्वराज टुडे:  उत्तर प्रदेश के कन्नौज में ईंट-भट्टे पर काम करने वाले एक मजदूर के खाते में अरबों रुपये आ गए। मजदूर के खाते में एक बार नहीं बल्कि दो बार अरबों रुपये की रकम आई। हालांकि अब मजदूर के खाते से पैसे गायब भी हो गए हैं। मजदूर के बैंक अकाउंट में 31 अरब 7 करोड़ 49 लाख 45 हजार 625 रुपये आये। वहीं मजदूर के खाते में पैसे आने की खबर जैसे ही गांव में फैली, पड़ोसियों में हलचल मच गई।

मजदूर को इस रकम के बारे में तब पता चला जब वह बैंक पर पैसे निकलने गया था। मजदूर ने स्थानीय मीडिया से बताया कि उसके खाते में किसी ने यह रकम डाल दी थी, ये जांच का विषय है। वहीं बताया जा रहा कि यह गड़बड़ी बैंक की ओर से हुई है और यह गड़बड़ी कैसे हुई है, इसकी जांच की जा रही है। मजदूर का बैंक अकाउंट बैंक ऑफ इंडिया में है।

यह मामला कन्नौज जिले के छिबरामऊ क्षेत्र के कमालपुर गांव का है। कमालपुर गांव के रहने वाले बिहारीलाल एक ईंट-भट्टे पर मजदूरी का काम करते हैं। मजदूर ने बताया कि बैंक कार्यकर्ता भी मजदूर के खाते का डिटेल देखने के बाद सन्न रह गया। एक बार में तो वह पूरी रकम सही से पढ़ भी नहीं पाया कि आखिर कितना पैसा है।

वहीं मजदूर का बैंक खाते सील कर दिया गया है और मजदूर के खाते में अब महज 126 रुपये हैं। बैंक मामले की जांच कर रहा है, लेकिन यह टेकनिकल एरर बताया जा रहा है। यह कैसे हुआ, ये जांच का विषय है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मजदूर की पत्नी ने कहा, “इतने ज्यादा रुपए आयें हैं, जब यह पता चला, तो मेरे दिमाग में बस एक बात थी कि मैं एक अच्छा सा घर बना लूं। बेटी की शादी करवा दूं और बेटे को कुछ काम-धंधा करवा दूं। लेकिन अगले दिन ही सपना टूट गया। 5 बेटियां हैं और दो बेटे हैं। बड़ा बेटा कुछ करता नहीं है। कभी -कभी तो खाना भी ढंग से नसीब नहीं होता है।”


यह भी पढ़ें:इनाम में लैपटॉप पाने के लालच में महिला इंजीनियर हुई साइबर ठगी की शिकार


यह भी पढ़ें: जवाहर नवोदय विद्यालय के 53 बच्चे और कर्मचारी कोरोना संक्रमित, विद्यालय परिसर में ही बनाया गया आइसोलेशन वार्ड, चिकित्सा विशेषज्ञों की निगरानी में उपचार शुरू


 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
814SubscribersSubscribe

संजीवनी बूटी से कम नहीं है अर्जुन की छाल, खुल जाती...

जब हृदय की धमनियों में बैड कोलेस्ट्रॉल जमने लगता है तब लोगों को हार्ट ब्लॉकेज और दिल से जुड़ी बीमारियों की समस्या होने लगती...

Related News

- Advertisement -