बच्चे को दी सजा तो पिता ने टीचर को ही प्रिंसिपल ऑफिस में कूट दिया, देखिए इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला वीडियो

- Advertisement -

किसी भी देश का भविष्य वहां के बच्चों पर निर्भर करता है मगर उस बच्चे का भविष्य एक टीचर के हाथों में होता है। इसी वजह से टीचर को भगवान का दूसरा रूप माना जाता है। एक टीचर के हाथों में वह जादू होता है जिससे वो बच्चे का भविष्य गढ़ता है। अक्सर ये उदाहरण भी दिया जाता है कि एक टीचर उस कुम्हार के जैसा है जो मटका बनाते समय उसे एक हाथ से नीचे से सपोर्ट करता है और दूसरे हाथ से बाहर से उस पर प्रहार करता है।

मगर आज के इस कलयुग में वही टीचर सुरक्षित नहीं है। अगर वो अपने किसी छात्र को अनुशासन हीनता के चलते थोड़ी सी भी सजा दे देता है तो उसके परिजनों को यह बात बिल्कुल पसंद नहीं आती और वे टीचर के साथ मारपीट पर उतर आते हैं। गुंडे मवाली की तरह उस पर टूट पड़ते हैं ।

टीचर के साथ मारपीट का वीडियो वायरल

सोशल मीडिया पर आजकल एक वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें एक छात्र के पिता टीचर के साथ हाथापाई करते हुए नजर आ रहे हैं। दरअसल वायरल वीडियो को माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म X(पहले ट्विटर) पर @gharkekalesh नाम के पेज से शेयर किया गया है। इस CCTV वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा गया है कि, ‘कानपुर में प्रिंसिपल कार्यालय के अंदर छात्र को सजा देने की वजह से बच्चे के पिता और टीचर के बीच हाथापाई हुई।’

इस वायरल वीडियो में आप देख सकते हैं कि प्रिंसिपल ऑफिस में एक टीचर और प्रिंसिपल के साथ ही एक छात्र अपनी मां के साथ बैठा हुआ है। कुछ देर बाद आप देखेंगे कि उस ऑफिस में एक शख्स आता है और आते ही वहां बैठे टीचर को मारने लगता है। वहां मौजूद अन्य लोग उसे रोकने का प्रयास करते हैं मगर वो इंसान टीचर को लगातार मारता हुआ दिखाई देता है। कुछ देर बाद थोड़ी मशक्कत कर उस इंसान को कुछ लोग पकड़कर बाहर लेकर जाते हैं।

लोगों ने की घटना की कड़ी निंदा

इस वीडियो को देखने के बाद लोगों ने ऐसे परिजनों की निंदा करते हुए अपने समय से घटना की तुलना की। एक शख्स ने लिखा- ये कैसे पेरेंट्स हैं जो टीचर को मारते हैं, हमारे घरवाले तो गलती ना होने पर भी हमें ही मारते थे। एक दूसरे शख्स ने लिखा- क्या जमाना आ गया है, भगवान के दूसरे रूप कहे जाने वाले टीचर के साथ ऐसा व्यवहार बहुत निंदनीय है। खबर लिखे जाने तक वीडियो को 65.7 हजार से ज्यादा लोगों ने देखा लिया है।

यहां गौर करने वाली बात यह है कि राष्ट्र निर्माता कहे जाने वाले शिक्षक को एक पिता अपने पुत्र के सामने किसी अपराधी की तरह दंड दे रहा है तो जरा विचार कीजिये कि उस छात्र के मन में अपने शिक्षकों के लिए कितना सम्मान होगा ।

 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
866SubscribersSubscribe

कांग्रेस सदैव ही जनता के हितों की रक्षा के लिए है...

छत्तीसगढ़ दुर्ग/स्वराज टुडे: प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी के संबंध में पूर्वी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी दुर्ग शहर द्वारा आगामी 24 जुलाई को...

Related News

- Advertisement -