फिर एक पत्नी ने की बेवफाई, बस चालक ने खूब पढ़ा लिखाकर पत्नी को दिलाई पुलिस विभाग में नौकरी, लेकिन पत्नी ने किया कुछ ऐसा कि पहुंच गई पुलिस

- Advertisement -

उत्तरप्रदेश
गाजियाबाद/स्वराज टुडे: शादी के बाद पत्नी को पढ़ा-लिखाकर सरकारी नौकरी दिलाने में खून पसीना एक करने वाले बुलंदशहर के बस चालक को शायद ये अंदाजा न होगा कि एक दिन वह उसका ही साथ छोड़कर किसी और के साथ सात फेरे लेने को तैयार हो जाएगी, बिल्कुल उसी तरह जैसे प्रदेश सरकार में कार्यरत एक महिला पीसीएस अधिकारी ज्योति मौर्य ने कुछ माह पहले करने की कोशिश की थी।

पुलिस लेकर अपनी पत्नी के मंडप में पहुंचा पति

शनिवार को बस चालक ने अपनी पत्नी की शादी किसी और से होने की सूचना मिलने पर पुलिस को सूचित किया, जब तक पुलिस पहुंची जयमाला कार्यक्रम हो चुका था, फेरे लेने के लिए दूल्हा-दुल्हन तैयार थे। यह शादी पुलिस के दखल के बाद रोक दी गई।

खून पसीना एक कर पत्नी को पढ़ाया लिखाया

बुलंदशहर में रहने वाले बस चालक की शादी सात साल पहले वर्तमान में गाजियाबाद में रहने वाली युवती से हुई थी, उसकी इच्छा शादी के बाद पढ़ाई पूरी कर सरकारी नौकरी करने की थी, इसमें पति ने पूरा साथ दिया। पढ़ाई में किसी तरह की कमी न आए, इसके लिए न केवल उसने अपनी खून-पसीने की कमाई खर्च की, बल्कि घर के काम मे भी हाथ बंटाया।

यूपी पुलिस में चयन होते ही बदल गया पत्नी का व्यवहार

दोनों की मेहनत रंग लाई और बस चालक की पत्नी का चयन 2019 में उत्तर प्रदेश पुलिस में सिपाही के पद पर हो गया। वर्तमान में उसकी तैनाती शाहजहांपुर जिले में है। सरकारी वर्दी पहनने के कुछ समय बाद ही उसके व्यवहार में बदलाव आ गया, पति से उसने दूरी बनानी शुरू कर दी और उसे नापसंद करने लगी।

तलाक की आई नौबत

मामला इस कदर आगे बढ़ा की दोनों के बीच तलाक की नौबत आ गई। अभी तलाक लंबित ही था कि महिला सिपाही ने पति को छोड़ अपने उत्तर प्रदेश पुलिस में सिपाही के पद पर कार्यरत और वर्तमान में बदायूं में तैनात अपने मित्र से शादी की तैयारी शुरू कर दी।

शनिवार को दोनों की शादी का कार्यक्रम राकेश मार्ग स्थित एक बैंक्वेट हॉल में आयोजित किया गया। ढोल की थाप पर नाचते बरातियों को साथ लेकर दूल्हा और दूसरी शादी कर अपने जीवन की नई शुरुआत का सपना आंखों में संजोए महिला सिपाही दुल्हन बन वहां पहुंची।

हो चुका था जयमाला कार्यक्रम

दोनों ने एक दूसरे को जयमाला पहनाई और विवाह के मंडप में सात फेरे लेने के लिए जाने की तैयारी में थे, इस दौरान एक सूचना पर महिला सिपाही का पति सिहानी गेट पुलिस को लेकर वहां पहुंचा और शादी का विरोध किया। पुलिस ने महिला सिपाही से जब पहले पति से तलाक के कागज मांगे तो वह सन्न रह गई।

दोनों को लाया गया थाने

दूल्हे के चेहरे से भी खुशी की झलक गायब हो गई। दोनों को दोपहर में ही सिहानी गेट थाने लाया गया, यहां पर देर शाम तक दोनों पक्षों के बीच वार्ता चली, इसके बाद महिला सिपाही ने कहा कि जब तक उसका पहले पति से तलाक नहीं हो जाता वह दूसरी शादी नहीं करेगी, तब जाकर इस मामले में दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ।

नंदग्राम के एसीपी रवि कुमार सिंह ने बताया कि महिला सिपाही का पहले पति से तलाक नहीं हुआ था, वह दूसरी शादी कर रही थी। शिकायत पर उसकी दूसरी शादी रुकवा दी गई है। दोनों पक्षों में समझौता होने के कारण इस मामले में रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
822SubscribersSubscribe

यूरिन इन्फेक्शन से हैं परेशान..तो इन घरेलू उपायों से पाएं छुटकारा

यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन (UTI) आम है और यह आपको काफी असहज बना सकता है। ये तब होते हैं जब बैक्टीरिया यूरिन ट्रैक में प्रवेश...

Related News

- Advertisement -