पुराने नोट के बदले लाखों कमाने का लालच देने वाले विज्ञापनों से रहें दूर, वरना हो जाएगा आपका एकाउंट खाली

- Advertisement -

लुधियाना/स्वराज टुडे: आजकल फेसबुक पर 5, 10 और 50 रुपए के पुराने नोट खरीदने के बदले लाखों और करोड़ों रुपए देने का झांसा देकर ठगों ने लोगों को लूटने का एक नया रास्ता खोज निकाला है।

पुराना 5 रुपए का ट्रैक्टर वाला नोट यदि किसी के पास है तो उसके बदले में 35 लाख से लेकर 2 करोड़ रुपए तक देने का ऐलान किया जा रहा है, इसी तरह 10 रुपए के पुराने और 50 रुपए के 786 वाले नोट के भी 5 करोड़ रुपए तक देने का अलग-अलग वैबसाइटों पर लालच दिया जा रहा है।

लोगों का विश्वास जीतने के लिए कई साइटों पर तो इस तरह की कमैंट्री की जा रही है जैसे वही एक सच्ची वैबसाइट है जो पुराने नोट खरीदती और बेचती है और उसके बदले में लोगों को लाखों-करोड़ों रुपए अदा करती है। इसमें स्पष्ट कहा जाता है कि आप किसी भी झांसे में न आकर कोई अकाऊंट न खुलवाएं बल्कि सीधे उनके दिए हुए फोन नंबर पर संपर्क करें और पुरानी करंसी देकर बदले में लाखों-करोड़ों रुपए कमा कर उनसे ले जाएं। दिए गए नंबरों पर जब कोई भी व्यक्ति उनसे संपर्क करने की कोशिश करता है तो आगे से व्हाट्सएप पर कॉल करने के लिए कहा जाता है।करंसी बदलने के लिए सबसे पहले उन्हें उनके पास रजिस्ट्रेशन करवाने की शर्त रखी जाती है जिस पर उनसे सारी बैंक डिटेल ले लेते हैं। आई.एफ.एस.सी. कोड और अकाऊंट नंबर तक को भी ले लिया जाता है,

इतना नहीं कुछ वैबसाइटों पर तो लोगों से 10 हजार रुपए जमा करवाने के लिए भी कहा जाता है ताकि वह उनकी वैबसाइट पर अपने को रजिस्टर करवा कर उनके सदस्यता हासिल करें। जब कोई व्यक्ति रजिस्ट्रेशन न करवाने की शर्त रखता है तो उसे साफ कहा जाता है कि बिना रजिस्ट्रेशन के कोई भी करंसी नहीं बदली जाएगी।

पंजाब केसरी की टीम ने आज जब फेसबुक पर अलग-अलग दिए गए नंबरों पर संपर्क करने की कोशिश की तो आगे से जवाब मिला कि सारी डिटेल व्हाट्सएप नंबर के जरिए ही आपको बताई जाएगी। फोन पर बात करने वाले व्यक्ति ने सबसे पहले अकाऊंट नंबर और बैंक की सारी डिटेल मांगी और उसके बाद एक वैबसाइट वाले ने 3 हजार और दूसरे ने 10 हजार रुपए की मांग की और कहा कि जैसे ही आप पैसे ट्रांसफर कर देगें आपको तुरंत सदस्यता मिल जाएगी। उस सदस्यता का नंबर बता कर ही आप पुरानी करंसी को बदल सकते हैं। पैसे आपके अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे। उनसे जब पूछा गया कि आप इस पुरानी करंसी का क्या करते हैं और इसे इतने महंगे दामों में क्यों खरीद रहे हैं तो आगे से जवाब मिलता है कि भाई साहिब यह आप का विषय नहीं है, कृपया आपको करंसी बेचनी है तो हमारी सदस्यता लें अन्यथा फोन बंद कर दें?

उनसे जब पूछा गया कि आप कहां से बोल रहे हैं तो उन्होंने कहा कि हम मुंबई से बोल रहे हैं और एक ने इलाहाबाद और तीसरे ने कानपुर से बात करने की बात कही। उसे जब कहा गया कि हम 10 की बजाय 20 हजार रुपए देंगे लेकिन हम आपके परिसर पर आकर आपको नकद रुपए देकर आप की सदस्यता लेना चाहते हैं और साथ में ही आपको आपके परिसर पर ही पुराने नोटों की डिलीवरी देकर पैसे लेना चाहते हैं तो तुरंत तीनों जगह से बात करने वाले लोग फोन डिस्कनैक्ट कर भाग लिए। दोबारा उन्हीं नंबरों पर जब कॉल करने की कोशिश की गई तो नंबर या तो व्यस्त मिला या किसी नंबर पर संपर्क न होने का मैसेज सुनाई दिया। एक नंबर पर तो ऐसा मैसेज देर शाम तक सुनाई देता रहा कि इस नंबर पर इनकमिंग कॉल फैसिलिटी मौजूद नहीं है, इसलिए सभी से निवेदन है कि लाखों-करोड़ों रुपए के झांसे में न आएं और न ही अपनी बैंक की किसी तरह की कोई निजी डिटेल किसी के साथ शेयर करें। ऐसे ठग आपके बैंक अकाऊंट को भी खाली कर सकते हैं। इसके अलावा आपसे यही निवेदन है कि किसी की भी सदस्यता लेने की कोई भूल न करें, अन्यथा आपकी मेहनत की गाढ़ी कमाई को यह ठग लूट कर ले जाएंगे।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
866SubscribersSubscribe

कांग्रेस सदैव ही जनता के हितों की रक्षा के लिए है...

छत्तीसगढ़ दुर्ग/स्वराज टुडे: प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी के संबंध में पूर्वी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी दुर्ग शहर द्वारा आगामी 24 जुलाई को...

Related News

- Advertisement -