पीजी कॉलेज के ग्राउंड में लगे नेट में फंसा विशालकाय मॉनिटर छिपकली, सर्पमित्र जितेन्द्र सारथी ने कराया आज़ाद, देखें रोंगटे खड़े कर देने वाला वीडियो

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा/स्वराज टुडे: कोरबा जिले में आए दिन वन्य जीवों से जुड़ी वीडियो सामने आती रहती हैं और बारिश में अक्सर ज़मीन में रेंगने वाली मौत का डर मंडराता रहता हैं लेकिन कभी कभी वो खुद भी आफत में फंस जाते हैं। वैसे हम बात कर रहे आज चार पैर वाले विशाल काय मॉनिटर छिपकली (Monitor Lizard) की जो बहुत ही भयानक दिखाता है पर वह जहरीला नहीं होता पर अक्सर उसको देख कर लोग डर जाते हैं।

आज शासकीय इंजीनयर विश्वेश्वरैया स्नातकोत्तर महाविद्यालय के ग्राउंड में क्रिकेट खेल रहे कुछ बच्चों को सफ़ाई करते समय नेट पर कुछ फंसा दिखाई दिया। पास जाकर देखा तो मॉनिटर छिपकली(गोह) थी जिसको बच्चों ने छुड़ाने की भरपूर कोशिश की पर वह और उस जाल में उलझता गया । साथ ही उसके गुस्से को देख कर बच्चें डर गए जिसके बाद बच्चों ने कॉलेज के क्रीड़ा अधिकारी Dr बोगी संकर राव को इसकी जानकारी दी। उन्होंने फिर स्नेक रेस्क्यू टीम के अध्यक्ष वन विभाग सदस्य जितेन्द्र सारथी को इसकी जानकारी दी ।

जिसके बाद जितेन्द्र सारथी टीम के सदस्य सौरव श्रीवास के साथ मौके स्थल पर पहुंचे और जाल को काटने के लिए कैची मंगवाया, जैसे ही उसको छुड़ाने के लिए जाल को काटने लगे वो और गुस्से में आवाज़ करने लगा साथ ही काटने की कोशिश करने लगा। फिर बड़ी सावधानी से धीरे धीरे जाल को काटने में कामयाब हुए और मॉनिटर छिपकली आज़ाद हुआ, जिसको वही दूर जाकर छोड़ दिया गया।

जितेन्द्र सारथी ने बताया कि मॉनिटर छिपकली (Monitor Lizard) जिसको हिंदी में गोह बोलते हैं बहुत ताकतवर सरीसृप प्राणी हैं जिसके पंजों में बहुत ज्यादा ताकत होता हैं। राजा महाराजा शासन के समय इसका इस्तेमाल दुश्मनों के किलो में चढ़ने के लिए किया जाता था ।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
820SubscribersSubscribe

याचिकाकर्ता दो बिजली कर्मचारियों को हाई कोर्ट से मिली बड़ी राहत

छत्तीसगढ़ बिलासपुर/स्वराज टुडे:  बिजली कंपनी से सेवानिवृत हुए दो कर्मचारियों की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने एक महीने के भीतर दोनों याचिकाकर्ताओं...

Related News

- Advertisement -