निर्वाचन शाखा की घोर लापरवाही, मतदाता सूची से विलोपित कर दिया गया छत्तीसगढ़ महतारी संस्कृति संवर्धन सेवा समिति के प्रदेशाध्यक्ष का नाम, कलेक्टर से की गई शिकायत

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा/स्वराज टुडे: निर्वाचन शाखा कोरबा के विभागीय गलतियों एवं इस कार्य में लगे कर्मचारियों एवं अधिकारियों की गलती के कारण छत्तीसगढ़ महतारी संस्कृति संवर्धन सेवा समिति के प्रदेशाध्यक्ष मोहन सिंह प्रधान का नाम मतदाता सूची से विलोपित कर दिया गया है।
श्री प्रधान ने कोरबा कलेक्टर श्री अजित वसंत को लिखित में शिकायत करते हुए कहा कि यह एक अति गंभीर मामला है जिसमें वर्तमान में होने वाले लोकसभा चुनाव में जो मतदाता सूची का प्रकाशन किया गया उसमें से मेरे नाम को काट दिया गया है जबकि मेरे पूरे आश्रितों का नाम जिनका मैं अभिभावक हूं उन सभी परिवार के सदस्यों का नाम मतदाता सूची में उपलब्ध है।

यह जानकर आश्चर्य हो रहा है कि किस आधार पर मेरा नाम मतदाता सूची से बाहर किया गया है और इसमें शामिल अधिकारी एवं कर्मचारियों की क्या मंशा है,, और इस तरह की गलती वास्तव में एक गंभीर अपराध एवं सिविल सेवा आचार संहिता का सरासर उल्लंघन है ।
निर्वाचन शाखा कोरबा में कार्यरत अधिकारी एवं कर्मचारियों के इस किए गए गलती के कारण मुझे लोकसभा चुनाव में अपना मताधिकार प्रयोग के लिए वंचित होना पड़ेगा । उपरोक्त संदर्भ में मुझे बूथ लेवल अधिकारी के द्वारा दिनाँक 18/4/2924 को जानकारी मिली कि आपका नाम मतदाता सूची से विलोपित कर दिया गया है । मैं विगत 36 वर्षों से नगर निगम चुनाव, विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव में जब-जब चुनाव का आव्हान सरकार के द्वारा की गई तब तब मैंने अपने मताधिकार का प्रयोग विगत कई वर्षों से एक ही स्थान पर रहकर करते आ रहा हूं और न हीं मेरा स्थान परिवर्तन हुआ है।

उपरोक्त संदर्भ में सारे दस्तावेज जो निर्वाचन आयोग या निर्वाचन अधिकारियों को मताधिकार के प्रयोग के लिए मांगी जाती है वह सभी दस्तावेज मेरे पास उपलब्ध है लेकिन पूछे जाने पर निर्वाचन शाखा कोरबा में उपरोक्त कार्य के लिए लगाए गए अधिकारी एवं कर्मचारियों का सही जवाब नहीं मिल पाने की स्थिति में और इस संबंध में उच्च अधिकारियों से बात करने हेतु इनके कहने के आधार पर मैंने जिला कलेक्टर कोरबा मुख्य निर्वाचन अधिकारी मुख्य निर्वाचन आयुक्त निर्वाचन आयोग रायपुर, मुख्य निर्वाचन आयोग भारत सरकार नई दिल्ली ,को भी उपरोक्त संदर्भ में अपना नाम जुड़वाने हेतु दिनांक 19/4/2024 को आवेदन प्रेषित किया है एवं मताधिकार से वंचित न हो पाऊं इसलिए माननीय जिला निर्वाचन अधिकारी कलेक्टर महोदय से अनुरोध किया है कि उपरोक्त संदर्भ में पूर्व में प्रकाशित मतदाता सूची की कॉपी जिसमें मेरा सरल क्रमांक सहित पूरी जानकारी मतदाता फोटो परिचय पत्र आधार कार्ड सहित कई जानकारियां माननीय कलेक्टर महोदय को आवेदन के माध्यम से संलग्न कर प्रेषित किया है।

श्री प्रधान ने मांग की है कि जो भी अधिकारी कर्मचारी इस कार्य में लगाए गए हैं और उनके तरफ से संतोषजनक जवाब नहीं दिए जाने की स्थिति में मजबूरन पत्राचार करना पड़ रहा है इस तरह के कृत्य जो किसी भी कर्मचारी के लिए किसी आम नागरिक को उसके मताधिकार से वंचित करने की स्थिति में जो भी संविधान सम्मत कार्यवाही संबंधित लोगों के ऊपर की जाए ताकि इतने बड़े गंभीर विषय को हल्के में ना लेकर अन्य नागरिकों के साथ ऐसा आचरण ना करें जबकि मैं स्वयं प्रदेश स्तर सहित कई सामाजिक संगठनों का छत्तीसगढ़ एवं जिले में पदाधिकारी के रूप में अपनी सेवाएं दे रहा हूं।
लगातार निर्वाचन संबंधी एवं प्रत्याशियों के नामांकन एवं नाम वापसी के तिथि तक माननीय जिला कलेक्टर महोदय से मुलाकात नहीं हो पाई है इसलिए मैंने अपनी भौतिक उपस्थित उनके समक्ष दर्ज नहीं कर पाया हूं तत्काल प्रत्याशियों के नाम वापस की तिथि समाप्त होने के बाद माननीय कलेक्टर महोदय से भी उपरोक्त संदर्भ में स्वयं मुलाकात कर पूरी जानकारी उपलब्ध कराऊंगा। और यही मांग रखूंगा की किसी भी हाल में या होने वाले लोकसभा चुनाव में मुझे मताधिकार से वंचित न होना पड़े इसलिए पूर्व की भांति मेरा नाम मतदाता सूची में जोड़कर मुझे एक बेहतर जिम्मेदार नागरिक की तरह अपना मताधिकार के प्रयोग के लिए अपने स्तर पर कार्रवाई कर आदेशित करें।

यह भी पढ़ें: खेत की गहरी जुताई के लिए सरकार इस मशीन के लिए दे रही सब्सिडी, ऐसे करें आवेदन

यह भी पढ़ें: पत्नी के प्रेमी को बहाने से बुलाया, फिर बीच बाजार चला दी गोली

यह भी पढ़ें: पर्यावरण मंत्री ओपी चौधरी का आदेश हो रहा बेअसर, खनिज एवं स्थानीय प्रशासन रेत के अवैध उत्खनन व आसमान छूती कीमतों पर लगाम लगाने में असफल

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
820SubscribersSubscribe

याचिकाकर्ता दो बिजली कर्मचारियों को हाई कोर्ट से मिली बड़ी राहत

छत्तीसगढ़ बिलासपुर/स्वराज टुडे:  बिजली कंपनी से सेवानिवृत हुए दो कर्मचारियों की याचिका पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने एक महीने के भीतर दोनों याचिकाकर्ताओं...

Related News

- Advertisement -