नारी निकेतन में महिलाओं को प्रताड़ित करती थी अधीक्षिका, बात नहीं मानने पर गला दबाकर मारती थी लात, अब हुई सस्पेंड

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
दंतेवाड़ा/स्वराज टुडे: छत्‍तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नारी निकेतन में रह रहीं महिलाओं और युवतियों के साथ शोषण का मामला सामने आया है। नारी निकेतन की अधीक्षिका कल्पना रथ यहां रहने वाली महिलाओं को प्रताड़ित करती थी और उनसे पैर दबवाती थी। पैर नहीं दबाने पर अधीक्षिका गुस्‍से में युवतियों का गला दबाती और उन्‍हें लात से मारती थी।

संज्ञान में आने के बाद कलेक्टर ने अधीक्षिका को किया सस्पेंड

अधीक्षिका का असली रूप उस वक्‍त सामने आया जब वह वहां की एक युवती से पैर दबवाने का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। कलेक्टर विनीत नंदनवार ने इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए अधीक्षिका कल्पना रथ को सस्पेंड कर दिया।

पीड़ित महिलाओं ने अधीक्षिका पर लगाए गंभीर आरोप

नारी निकेतन की महिलाओं ने आरोप लगाया कि उनसे अधीक्षिका पैर दबवाने के साथ साथ खाना भी नहीं देती थी। महिलाओं से मारपीट भी करती थी। नारी निकेतन जैसी संस्था में महिलाओं को प्रताड़ित करने के मामले को कलेक्टर विनीत नंदनवार ने गंभीरता से लेते हुए अधीक्षिका कल्पना रथ को तत्‍काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया।कल्पना रथ पर इससे पहले भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने पैसे लेने का आरोप लगाया था।

 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
804SubscribersSubscribe

मोदी की गलत नीतियों के कारण चुनाव बहिष्कार की नौबत, अन्याय...

छत्तीसगढ़ कोरबा/स्वराज टुडे: संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत एसईसीएल की कुसमुंडा परियोजना से प्रभावित ग्राम पाली, पड़निया, सोनपुरी, खैरभवना, जटराज चंद्रनगर, रिस्दी, खोडरी, चुरैल व अमगांव...

Related News

- Advertisement -