डीए और एचआरए के लिए 29 जून के हड़ताल के लिए संगठनों ने की पूरी तैयारी,सभी कर्मचारियों के साथ शिक्षक भी रहेंगे हड़ताल पर

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा/स्वराज टुडे: बढ़ती मंहगाई और लंबे समय से मांगो को शासन द्वारा अनसुना करने के कारण शिक्षकों एवं कर्मचारियों के सब्र का बांध टूट चुका है। लंबित मंहगाई भत्ता और सातवें वेतनमान अनुसार गृहभाड़ा भत्ता के लिए 29 जून को होने वाले धरना प्रदर्शन के लिए शिक्षक एवं कर्मचारी संगठनों की तैयारी पूरे जोर पर है। छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के आह्वान पर चरणबध्द आंदोलन का शंखनाद किया गया है जिसमें सभी लगभग सभी संगठनों ने आंदोलन को सफल बनाने पूरा जोर लगा रही है। इसके लिये छत्तीसगढ़ शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने भी आंदोलन को शत प्रतिशत सफल बनाने पूरी ताकत झोंक दी है।

छत्तीसगढ़ शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के प्रांताध्यक्ष डॉ. गिरीश केशकर, कार्यकारी प्रांताध्यक्ष पवन साहू, प्रांतीय उपाध्यक्ष दिनेश घृतलहरे, पुष्पा मांडरिक, महामंत्री हेमकांत यादव, प्रांतीय सचिव तरुण वैष्णव, कोषाध्यक्ष प्रकाश वैष्णव, प्रांतीय प्रवक्ता श्यामलाल सितारे बस्तर संभाग प्रभारी संतोष निषाद, रायपुर संभाग प्रभारी कलीराम मार्कण्डेय, दुर्ग संभाग प्रभारी तेजेंद्र जोशी, सरगुजा संभाग प्रभारी देवव्रत प्रसाद एवं बिलासपुर संभाग प्रभारी रोहित खूंटे सहित सभी प्रांतीय एवं जिला पदाधिकारियों ने बताया कि इतनी बढ़ती मंहगाई में भी सरकार मंहगाई भत्ता और गृहभाड़ा भत्ता पर कोई सकारात्मक निर्णय नहीं ले रही है। शिक्षक एवं कर्मचारियों को हजारों रुपये का आर्थिक नुकसान इसके कारण उठाना पड़ रहा है। कोरोना काल में हर क्षेत्र में पूरी निष्ठा पूर्वक कोरोना योद्धा के रूप में कार्य करने का भी सरकार कोई मोल नहीं समझ रही है।

शासन के इस प्रकार की उपेक्षा पूर्ण रवैये के कारण कर्मचारियों का सब्र अब जवाब दे चुका है। प्रांताध्यक्ष डॉ गिरीश केशकर सहित सभी पदाधिकारियों नें शिक्षकों एवं कर्मचारियों से संघीय भावनाओ से ऊपर उठ कर इस जायज मांग के लिए एक दिन का सामूहिक अवकाश लेकर धरना स्थल पर उपस्थिति देकर प्रत्यक्ष रूप से सहयोग देकर आंदोलन को पूर्ण रूप से सफल बनाने की अपील की है।

 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
814SubscribersSubscribe

संजीवनी बूटी से कम नहीं है अर्जुन की छाल, खुल जाती...

जब हृदय की धमनियों में बैड कोलेस्ट्रॉल जमने लगता है तब लोगों को हार्ट ब्लॉकेज और दिल से जुड़ी बीमारियों की समस्या होने लगती...

Related News

- Advertisement -