जयपुर पुलिस की बड़ी कारवाई, फर्जी बैंक अकाउंट खुलवाकर साइबर ठगों को बेचने वाला गैंग गिरफ्तार

- Advertisement -

राजस्थान
जयपुर/स्वराज टुडे: जयपुर पुलिस ने बैंकों में फर्जी खाते खुलवा कर साइबर ठगी, ऑनलाइन गेमिंग और सट्टे की अवैध रकम का लेनदेन करने वाले गिरोह का खुलासा किया है। गिरोह के दो सरगना समेत पांच बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है।

शुरुआती जांच में सामने आया कि गैंग ने 733 फर्जी बैंक खाते खुलवाए, जिनमे करोड़ों रुपए ट्रांसफर किए गए। क्राइम ब्रांच के कॉन्स्टेबल गंगाराम को मुखबिर से सूचना मिली थी। जगतपुरा स्थित रॉयल प्लेटेनियम अपार्टमेंट के एक फ्लैट में रह रहे युवक फर्जी तरीके से बैंक अकाउंट खोलकर उन्हें कमीशन के बदले साइबर ठगों को उपलब्ध करवाते हैं। सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने बताए गए अपार्टमेंट के फ्लैट में दबिश दी। आरोपी राजेन्द्र मीना और सुरेश कुमार मीना को पकड़ा।

एडीजी (क्राइम) दिनेश एमएन ने बताया- गैंग लीडर योगी कृष्ण सोनी (34) पुत्र मुकुट बिहारी निवासी रॉयल सिटी कलवार रोड हाथोज और संदीप बागड़ा उर्फ ​​सैंडी (30) पुत्र सागरमल निवासी व्हाइट हाउस न्यू सांगानेर रोड सोडाला को गिरफ्तार किया गया है। उनके साथ गिरोह के सदस्य राजेंद्र कुमार मीना (34) पुत्र गोपाल लाल, सुरेश कुमार मीना (32) निवासी गांव जौल टोडाभीम हाल रॉयल प्लेटिनम अपार्टमेंट जगतपुरा और लक्ष्य जैन पुत्र चंद्रेश कुमार (22) निवासी एसडीसी कोटियार्ड एसकेआईटी कॉलेज के पास जगतपुरा थे। जयपुर गिरफ्तार कर लिया गया है. सरगना योगी कृष्ण सोनी और संदीप बागरा फर्जी बैंक खातों के डेबिट-क्रेडिट कार्ड, चेकबुक और पासबुक का इस्तेमाल करते थे। आरोपी राजेंद्र कुमार मीना और सुरेश कुमार मीना फर्जी बैंक खाते खुलवाते थे. लक्ष्य जैन अकाउंट संभालता था.

एक फ्लैट में रखे बड़ी संख्या में कार्ड मिले

एडीजी एमएन ने कहा- क्राइम ब्रांच के कांस्टेबल गंगाराम को मुखबिर से सूचना मिली थी. जगतपुरा स्थित रॉयल प्लैटिनम अपार्टमेंट के एक फ्लैट में रहने वाला युवक फर्जी तरीके से बैंक खाता खोलकर कमीशन के बदले साइबर ठगों को उपलब्ध करा देता है। सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने उक्त अपार्टमेंट के फ्लैट में छापेमारी की. आरोपी राजेंद्र मीना व सुरेश कुमार मीना को पकड़ लिया गया। तलाशी के दौरान पुलिस को फ्लैट से 18 बैंक खाता आवेदन पत्र, 5 चेक बुक, 2 बायोमेट्रिक मशीन, 4 ओटीजी, 34 सिम कार्ड, 7 आधार कार्ड और 32 क्रेडिट और डेबिट कार्ड बरामद हुए।

20 हजार तक कमीशन

आरोपी राजेंद्र मीना और सुरेश मीना सगे भाई हैं। पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि कुछ समय पहले उसे कृष्णा सोनी ने मुखबिरी की थी। फर्जी बैंक खाता खोलने के लिए वह 5 हजार रुपये देता था. 3 हजार रुपए वह अपने पास रखता था और बाकी 2 हजार रुपए खाताधारक को दे देता था. इसके बाद संदीप बागड़ा उर्फ ​​सैंडी से मुलाकात हुई। बैंक खाता खोलने के लिए वह 20 हजार रुपये तक देते थे.

733 फर्जी बैंक खातों की मिली डिटेल्स

पूछताछ में पता चला कि आरोपियों ने शुरुआत में अपने ही परिचितों-रिश्तेदारों के फर्जी बैंक खाते खोले. इसके बाद गरीब लोगों को पैसों का लालच देकर अलग-अलग बैंकों में खाते खुलवाते हैं। फर्जी खाता खोलते समय बैंक खाते में मोबाइल नंबर और पता योगी कृष्ण सोनी और संदीप बागरा का था। इस वजह से एटीएम चेकबुक और पासबुक उनके बताए पते पर ही पहुंचाए गए।

बैंक खाते और उन बैंक खातों में लेनदेन का रिकॉर्ड लक्ष्य जैन द्वारा किया जाता है। सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी लक्ष्य जैन को उसके घर पर छापा मारकर गिरफ्तार कर लिया. लक्ष्य के घर से मिले लैपटॉप में 733 फर्जी बैंक खातों की डिटेल मिली है. बाद में दो मुख्य आरोपियों योगी कृष्णा सोनी और संदीप बागरा उर्फ ​​सैंडी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. ये दोनों मुख्य आरोपी दूसरे शहरों में कमीशन के बदले बैंक खाते मुहैया कराने वालों के भी संपर्क में थे. इसकी जांच की जा रही है.

एडीजी एमएन ने कहा- अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विद्या प्रकाश के निर्देशन और इंस्पेक्टर राम सिंह नाथावत के नेतृत्व में कार्रवाई की गई. इस कार्रवाई में राज्य अपराध शाखा के कांस्टेबल गंगाराम की विशेष भूमिका रही. हेड कांस्टेबल कमल सिंह, शंकर दयाल, राम निवास एवं कांस्टेबल भूपेन्द्र शर्मा की तकनीकी भूमिका। गिरफ्तारी रामनगरिया थाना पुलिस ने की है. गिरफ्तार आरोपियों से रामनगरिया थाना पुलिस पूछताछ कर रही है.

यह भी पढ़ें: पत्नी की बेरहमी से हत्या, फिर जलाया शव, उसके बाद टुकड़े टुकड़े कर अलग – अलग जगह फेंका

यह भी पढ़ें: अलग-अलग राज्यों से बरामद की गई जिले से लापता तीन नाबालिग किशोरियां

यह भी पढ़ें: अगर आपका AC भी कर रहा है कम कूलिंग, तो टेक्नीशियन की तरह खुद ही कर लें साफ, मिनटों में बन जायेगा काम

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
821SubscribersSubscribe

मिमोह चक्रवर्ती पहली बार हॉरर कॉमेडी फिल्म “ओय भूतनी के” में...

मुंबई/स्वराज टुडे : मिथुन चक्रवर्ती के पुत्र मिमोह चक्रवर्ती पहली बार एक हॉरर कॉमेडी फिल्म "ओय भूतनी के" में नजर आएंगे। विज़न मोशन फिल्म्स...

Related News

- Advertisement -