खुलेआम घूम रहा महिला समूहों के 3 लाख डकारने वाला आरोपी, शिकायत के बावजूद पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR, अब एसपी से न्याय की गुहार

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा/स्वराज टुडे: कोरबा जिले के ग्राम सोनपुरी पड़निया में शक्ति स्व सहायता समूह और उजाला स्व सहायता समूह को रेडी टू ईट तैयार करने का टेंडर मिला हुआ है । एक स्थानीय युवक मिनेश पूरी गोस्वामी ने दोनों समूहों की महिलाओं का भरोसा जीत कर समूहों के खाते से लगभग 3 लाख रु आहरण कर लिया । जब महिलाओं को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने मिनेश पुरी गोस्वामी से अपने पैसों की मांग की लेकिन वो उन्हें दूंगा दूंगा कहकर महीनों से घूमा रहा है।

मिनेश पुरी गोस्वामी पर नौकरी का झांसा देकर खूब रुपए ऐंठने का भी आरोप लगा है । ग्राम सोनपुरी की रहने वाली सविता यादव नामक महिला ने आरोप लगाया कि मिनेश पुरी गोस्वामी ने उसे और उसके पति कन्हैया यादव को शासकीय नौकरी लगाने के नाम पर उससे 36 हजार रु वसूल लिए । बाद में ना तो उसने किसी को नौकरी लगवाया और ना ही पैसा वापस किया । सविता के परिजनों द्वारा पैसों की मांग करने पर मिनेश पुरी गोस्वामी द्वारा गाली गलौज और मारपीट की धमकी दी जाती है ।

आरोपी मिनेश पुरी गोस्वामी की धोखाघड़ी से परेशान पीड़िताओं ने जब रामपुर चौकी में शिकायत दर्ज कराई तो आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की बजाए पीड़िताओं को ही गोलमोल जवाब देकर वापस घर भेज दिया गया । पीड़िताओं का कहना है कि आरोपी मिनेश पुरी गोस्वामी खुलेआम गांव में घूम रहा है। साथ ही धमकी देता है कि उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। जहां शिकायत करना हो कर सकते हो । इससे आहत पीड़िताओं ने अब पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह से न्याय की गुहार लगाई है । बहरहाल देखना होगा कि एसपी से शिकायत के बाद आरोपी मिनेश पुरी गोस्वामी के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करती है अथवा नहीं ।

*ओंकार यादव की रिपोर्ट*

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
804SubscribersSubscribe

मोदी की गलत नीतियों के कारण चुनाव बहिष्कार की नौबत, अन्याय...

छत्तीसगढ़ कोरबा/स्वराज टुडे: संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत एसईसीएल की कुसमुंडा परियोजना से प्रभावित ग्राम पाली, पड़निया, सोनपुरी, खैरभवना, जटराज चंद्रनगर, रिस्दी, खोडरी, चुरैल व अमगांव...

Related News

- Advertisement -