कांग्रेस पार्टी द्वारा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जी का फर्जी वीडियो प्रसारित कर फैलाई जा रही अफवाह: भाजपा

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा/स्वराज टुडे: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का फर्जी वीडियो वायरल करने के विरोध में बीजेपी ने कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया । उद्योग मंत्री लखन लाल देवांगन, वन मंत्री केदार कश्यप और भाजपा जिला अध्यक्ष डॉ राजीव सिंह की अगुवाई में भाजपाइयों ने सिटी कोतवाली थाना में शिकायत दर्ज कराई है ।

भाजपा ने अपने शिकायत पत्र में कहा है कि तेलंगाना कांग्रेस विंग द्वारा अपने आधिकारिक सोशल मीडिया प्लेटफोर्म “X” के माध्यम केन्द्रीय गृह मंत्री माननीय श्री अमित शाह जी का एक कूटरचित वीडियो प्रसारित किया गया है जिसमे उनके मूल भाषण में कूट-रचना कर यह दर्शाया गया है कि उनके द्वारा कहा जा रहा है कि यदि उनकी सरकार बनी तो वह आरक्षण को समाप्त कर देंगे I

जिस वीडियो में छेड़-छाड़ की गयी है उसका मूल रूप भी उपलब्ध है जिसमे माननीय गृह मंत्री जी वास्तव में कह रहे हैं कि, ” भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी तो हम गैर-संवैधानिक मुस्लिम रिजर्वेशन को समाप्त कर देंगे । ये अधिकार तेलंगाना के एस.सी., एस.टी., ओ.बी.सी. का है। वो अधिकार उनको मिलेगा और मुस्लिम रिजर्वेशन को हम समाप्त कर देंगे।”

उल्लेखनीय है कि धर्म के आधार पर संविधान में आरक्षण की कोई व्यवस्था नहीं है तथा केन्द्रीय गृह मंत्री माननीय अमित शाह जी का यह भाषण इसी परिप्रेक्ष्य में था किन्तु तेलंगाना कांग्रेस के द्वारा उनके वास्तविक बयान में कूट-रचना कर उपरोक्त बयान के वास्तविक वक्तव्य को ही बदल दिया गया तथा कूट रचना कर माननीय गृहमंत्री जी के वक्तव्य में आरक्षण के विषय में गलत बातें यह जोड़ दी गयीं । जब यह कूट-रचित वीडियो वायरल हो गया तो इसे डिलीट कर दिया गया।

अनेक कांग्रेस कार्यकर्ताओं के द्वारा षडयंत्र के तहत इस वीडिओ को वायरल किया गया है । यह तो स्पष्ट है कि कांग्रेस पार्टी के द्वारा यह वीडियो एस.सी., एस.टी.तथा ओ.बी.सी. समाज के आरक्षण जैसे संवेदनशील विषय में भ्रम फैलाकर वोट लेने के उद्देश्य से प्रसारित किया गया है किन्तु कांग्रेस पार्टी के द्वारा यह जानते हुए कि इस प्रकार के भ्रामक एवं संवेदनशील वीडियो के प्रसारण से एस.सी., एस.टी. तथा ओ.बी.सी. समाज में असुरक्षा की भावना उत्पन्न हो सकती है तथा समाज के विभिन्न वर्गों में टकराव की स्थिति उत्पन्न करने के उद्देश्य से भी यह कूट-रचित वीडियो प्रसारित किया गया है ।

यह कूट-रचित वीडियो फेस-बुक, WhatsApp तथा अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म द्वारा अब वायरल हो चुका है तथा इससे सम्बंधित खबर प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा वेब-पोर्टलों के माध्यम से प्रसारित हो रही हैं।

इस मामले में राज्य सरकार का संरक्षण प्राप्त होने के कारण षड्यंत्र रचने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं की गई। कांग्रेस पार्टी तथा उसके नेताओं का यह कायरता पूर्ण कृत्य भारतीय दंड संहिता तथा आई.टी. एक्ट की सुसंगत धाराओं के तहत दंडनीय अपराध की श्रेणी में आता है।

अतः उपरोक्त तथ्यों का गंभीरता से संज्ञान लिया जाकर तेलंगाना कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रिय कार्यकारिणी सदस्यों, तेलंगाना कांग्रेस के उत्तरदायी नेताओं, उसके आधिकारिक सोशल मीडिया प्लेटफोर्म “X” के संचालकों, इस फर्जी वीडिओ को प्रसारित करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं, उपरोक्त वीडियो डिलीट करने वाले व्यक्ति तथा अन्य दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण (FIR) दर्ज कर दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध कार्यवाही की जाये।

ट्रांसपोर्ट नगर स्थित महाराजा होटल में आयोजित प्रेसवार्ता में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव, श्रम मंत्री लखन लाल देवांगन, वन मंत्री केदार कश्यप एवं जिला अध्यक्ष डॉ राजीव सिंह ने मीडियाकर्मियों से मुखातिब होते हुए अपना विरोध जताया और पुलिस प्रशासन से षड्यंत्रकारी कांग्रेसियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
826SubscribersSubscribe

कोरबा लोकसभा से दूसरी बार निर्वाचित सांसद ने ली पद व...

नई दिल्ली/स्वराज टुडे: छत्तीसगढ़ राज्य के कोरबा लोकसभा क्षेत्र क्रमांक 04 से दूसरी बार निर्वाचित हुईं सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने 22 जून को...

Related News

- Advertisement -