एसपी रामकृष्ण साहू के प्रयास से डेढ़ साल बाद खुला हत्या का राज, लापता सोनी साहू का कंकाल बरामद

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
सूरजपुर/स्वराज साहू: जिले के दूराचंल क्षेत्र चांदनी, बिहारपुर में आखिरकार सोनी साहू की हत्या का राज खुल गया और प्रेमी ने ही उसकी हत्या कर शव को जंगल में दफना दिया था। करीब डेढ़ वर्ष बाद उसका शव बरामद कर पुलिस ने जांच शुरू की है।

प्रेमी ने ही हत्या कर जंगल में दफना दी थी सोनी की लाश 

खबर यह है कि बिहारपुर की 21 वर्षीय सोनी साहू नाम की लड़की का गांव के ही तीरथ यादव नाम के युवक से प्रेम प्रसंग था। लेकिन सोनी की शादी कही और हो गया जो युवक को मंजूर नहीं था। लिहाज़ा युवक उसे किसी तरह झांसा देकर अपने घर ले आया और साथ रहने लगे पर एक दो माह तो ठीक था मगर 2 जनवरी 2021 को न जाने ऐसा क्या हुआ कि सोनी की तीरथ ने हत्या कर दी और कपड़े में बांध कर शव रखा और फिर शाम को ले जाकर दफना दिया।

कई पुलिस अफसर आए और गए लेकिन गरीब दुखियारी मां को नहीं मिला न्याय

इधर थाने में गुमने की सूचना दर्ज करा दिया। लेकिन मृतका की माँ कभी यह मानने को तैयार नहीं थी कि वह कहीं गायब हो गई बल्कि उसे शुरू दिन से हत्या की आशंका थी। उसने पुलिस से इसकी आशंका पर जांच की गुहार भी की पर कोई सुनने वाला रहे तब न…? इस बीच कई पुलिस अफसर आये और गए पर किसी ने इसे गम्भीरता से नहीं लिया।

नव पदस्थ एसपी रामकृष्ण साहू ने तत्काल दिए जांच एवं कार्रवाई के निर्देश

सूरजपुर जिले के नवपदस्थ पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू के समक्ष मामला पहुंचा। आपको बता दें सूरजपुर जिले में पिछले डेढ़ साल से कई पुलिस अधीक्षक,आए और गए, लेकिन गरीब, मजदूर,आम जनता कि सुनवाई नहीं होती थी, लेकिन नये एसपी आकर पुलिस और आम जनता को विश्वास दिलाया कि पुलिस प्रशासन अब किसी के हाथों बिकने वाले नहीं। सभी की सुनवाई होगी ।और कहते हैं न देर से भले ही लेकिन, जुर्म कितना भी छुपा लो या बचा लो एक न एक दिन कोई ऐसा आता है जो कानून और ईमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्वहन करता है । आज नहीं तो कल इसका राज खुलना ही था।

लेकिन आप खुद सोचिए अगर किसी और पुलिस अधिकारीयों ने इस मामले को गंभीरता से लिया होता तो मृतक सोनी साहू और उसके परिवार को इंसाफ के लिए दर दर नहीं भटकना पड़ता, लेकिन देर ही सही पर किसी ने तो सुनी । वह नेक इंसान और कोई नहीं सूरजपुर जिले के एसपी रामकृष्ण साहू हैं जिन्होंने  मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत अपने पुलिस टीम को एक्टीव कर मामले की जांच के लिए निर्देश जारी किया । इसके बाद टीआई बसन्त खलखो, बृजेश यादव ने इसकी जांच शुरू की। तीरथ से जब कड़ाई से पूछताछ शुरू की तो तीरथ टूट गया और हत्या की बात स्वीकार कर ली। उसकी निशानदेही पर जंगल से डेढ़ वर्ष पुराना शव बरामद कर लिया गया जो पूरी तरह कंकाल में तब्दील हो चुका है।

पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है कि क्यों मारा, और कौन शामिल था? पुलिस इसका खुलासा शीघ्र करेगी। पर आज बुजुर्ग मां को इंसाफ मिलने का मार्ग खुला है। इससे पूरे बिहारपुर में चर्चा का विषय बना हुआ है। पुलिस के प्रयास की सराहना की जा रही है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
820SubscribersSubscribe

’30 लाख रुपये में बिका NEET पेपर…’, आ गया बड़ा कबूलनामा,...

नई दिल्ली/स्वराज टुडे: नीट पेपर लीक मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। आरोपियों ने पूछताछ के दौरान कबूल कर लिया है कि पेपर लीक...

Related News

- Advertisement -