आरती हत्याकांड: अनाथ लड़के को मिला प्यार में जबरदस्त धोखा…इसलिए बन गया प्रेमिका के खून का प्यासा

- Advertisement -

मुम्बई/स्वराज टुडे: मुंबई के पास वसई में एक सिरफिरे आशिक ने 20 साल की लड़की की सरेआम सड़क पर स्पैनर से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी थी। अब इस मामले में जो खुलासा हुआ है उसकी सच्चाई जानकर अगर आपका भी खून खौल उठे तो ये हैरानी वाली बात नही होगी।

मृतक आरती का रोहित से था 6 साल से प्रेम संबंध

बताया जा रहा है कि मृतक लड़की आरती यादव आरोपी रोहित के साथ पिछले 6 साल से रिलेशनशिप में थी, लेकिन एकाएक उसने रोहित से बातचीत करना बंद कर दिया था। आरती के व्यवहार में अचानक आयी इस बेरुखी का रोहित ने पड़ताल की पता चला कि आरती उसे धोखा दे रही है। उसकी लाइफ में किसी दूसरे युवक की एंट्री हो चुकी है।

आरती के परिवार को अपना परिवार मानता था अनाथ रोहित

रोहित और आरती ना केवल एक दूसरे के पड़ोसी थे बल्कि सजातीय भी थे। आरती के परिवार को भी दोनों के रिलेशनशिप के बारे में अच्छे से पता था। रोहित का इस दुनिया में कोई नहीं था। वो अनाथ था। लिहाजा वो आरती के परिवार को ही अपना परिवार मानता था और इसीलिए वह अपनी पूरी सैलरी मृतक लड़की के परिवार को दे देता था। वह अपनी 12000 की सैलरी में से सिर्फ 1000 ही अपने खर्च के लिए रखता और बाकी आरती के परिवार को दे देता था।

आरती को नौकरी लगवाने में भी रोहित की अहम भूमिका

आरती को नौकरी की ज़रूरत थी इसलिए रोहित ने उसकी मदद की और उसे नौकरी दिला दी। लेकिन उसे क्या पता था कि आरती की ये नौकरी उसकी जिंदगी में तूफान लेकर आ जायेगा । नौकरी मिल जाने के बाद धीरे-धीरे आरती में बदलाव आने लगा और वह रोहित को इग्नोर करने लगी। इससे रोहित परेशान हो उठा। वह सोचने लगा कि आखिर उसने क्या गलती कर दी जो आरती उससे बेरुखी से पेश आ रही है। ना ढंग से बात करती है और ना मिलती है । इस तरह रोहित को संदेह हो गया कि आरती उसे धोखा दे रही है और हो न हो वो किसी और लड़के के साथ रिश्ते में है।

आरती पर नजर रखने पर हुआ बड़ा खुलासा

इस बात को लेकर दोनों के बीच कई बार झगड़ा भी हुआ। रोहित आरती की हर हरकत पर नजर रखने लगा। आरती का ऑफिस का दोस्त उसे छोड़ने जाता था। रोहित उन दोनों का पीछा करता था। एक दिन रोहित ने कुछ ऐसा देखा जिसके बाद उसने आरती को मारने का फैसला कर लिया लेकिन रोहित ने ऐसा क्या देखा जिससे वो 6 सालों के प्यार को भूलकर आरती के खून का प्यासा हो गया ?

रोहित ने आरती को किसी और को चूमते हुए देख लिया

एक बार रोहित आरती को अपने ऑफिस के साथी को चूमते हुए देख लिया , जिसके बाद दोनों में जमकर झगड़ा हुआ। रोहित ने आरती से उस लड़के का नंबर लिया और उसे फोन कर धमकी दी। रोहित यादव ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसने आरती के पिता को अपने और आरती के रिश्ते में आई खटास की जानकारी दी थी। उसने उसके पिता को बताया था कि आरती का ऑफिस में किसी और लड़के से अफेयर चल रहा है। इसके बाद भी उन्होंने कुछ नही किया और आरती अपने ऑफिस में काम करने वाले उस लड़के से बात करती रही। आरती ने उसे जीने लायक नहीं छोड़ा, उसका सब कुछ बर्बाद कर दिया । उसकी ये बेवफाई वो बर्दास्त नही कर सका और उसने आरती को मारने की योजना बना ली।

मृतका के परिजनों ने पुलिस पर लगाया लापरवाही का आरोप

हत्या से कुछ दिन पहले रोहित गुस्से में आरती के घर जाता है और उसके साथ मारपीट करता है, जिसके बाद आरती रोहित के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराती है, लेकिन पुलिस ने रोहित के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया। लेकिन आरती द्वारा पुलिस कंप्लेन किये जाने से रोहित का गुस्सा और नफरत और भड़क उठा था ।  इसके बाद उसने आरती पर सड़क पर सरेआम स्पैनर से हमला कर दिया। वह उस पर तब तक वार करता रहा जब तक वह मर नहीं गई। मृतक आरती के परिजनों का आरोप है कि अगर पुलिस रोहित के खिलाफ शुरू में ही सख्त कार्रवाई की होती तो आरती की जान बच सकती थी ।

यह भी पढ़ें: फिर एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को दी बेवफाई की खौफनाक सजा, सरेआम स्पैनर से पीट-पीटकर ले ली जान, देखें दिल दहला देने वाला वीडियो

यह भी पढ़ें: पहली बीवी के रहते दूसरी से किया निकाह.. फिर दो बच्चे हो जाने के बाद अब दे दिया तीन तलाक

यह भी पढ़ें: यूरिन इन्फेक्शन से हैं परेशान..तो इन घरेलू उपायों से पाएं छुटकारा

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
506FansLike
50FollowersFollow
843SubscribersSubscribe

शहर को खोदापुर की तरफ ले जाते स्मार्ट अमित कुमार आयुक्त...

*व्यापार विहार स्मार्ट रोड में खड्डे, वाहन हो रहें दुर्घटना ग्रस्त बिलासपुर/स्वराज टुडे : जब से स्मार्ट शहर का स्मार्ट आयुक्त अमित कुमार आये हैं...

Related News

- Advertisement -