आखिरकार बर्खास्त थानेदार सीमा जाखड़ को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानिए क्या है मामला

- Advertisement -

राजस्थान
जोधपुर/स्वराज टुडे: सिरोही पुलिस ने डोडा पोस्त से भरी लग्जरी कार में सवार दो तस्करों को छोड़ने के मामले में आखिरकार बर्खास्त थानेदार सीमा जाखड़ (Terminated SI Seema Jakhar arrested) को रविवार को जोधपुर से गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही अब तीन और बर्खास्त कांस्टेबल पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटकने लगी है। इस मामले में अब तक चार जने पकड़े जा चुके हैं।

सिरोही पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र कुमार यादव ने बताया कि प्रकरण में जोधपुर निवासी बर्खास्त उप निरीक्षक सीमा जाखड़ को गिरफ्तार (Terminated SI Seema Jakhar arrested) किया गया है। उसके जोधपुर में होने की सूचना पर सिरोही पुलिस की एक टीम भेजी गई। वह घर पर नहीं मिली। लोकेशन के आधार पर उसे जोधपुर शहर से हिरासत में लिया गया।

सिरोही के स्वरूपगंज थाने लाकर पूछताछ के बाद शाम को सीमा जाखड़ को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे तस्करों को भगाकर मदद करने के आरोप में पकड़ा गया है।

अब इनकी गिरफ्तारी होना तय

प्रकरण में इससे पहले रमेश, हेमाराम व शंकरलाल को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भिजवाया जा चुका है। सिरोही में बरलूट थाने के बर्खास्त कांस्टेबल ओमप्रकाश, सुरेश कुमार व हनुमानाराम की गिरफ्तारी बाकी है। वहीं, लाखों रुपए के लेन-देन के बदले मौके से भगाए गए तस्करी के आरोपी केरिया हालीवाव निवासी दिनेश कुमार खींचड़ भी अभी तक पकड़ में नहीं आया है। उसकी भी तलाश की जा रही है।

डोडा पोस्त से भरी कार पकड़कर छोड़े थे दो तस्कर

गत वर्ष 14 नवम्बर की रात 8 बजे बतौर बरलूट थानाधिकारी सीमा जाखड़ ने गुजरात नम्बर की लग्जरी कार में डोडा पोस्त पकड़ा था, लेकिन थाने में 15 नवम्बर सुबह 5.50 बजे की कार्रवाई दिखाई गई थी। रोजनामचे में सुबह 4.50 बजे नाकाबंदी में जावाल नदी से डोडा पोस्त से भरी कार की सूचना मिलना दिखाया गया था। उसने सुबह 5.10 बजे थाने से रवानगी दिखाई थी। सुबह 5.50 बजे कार के आने व नाकाबंदी तोड़कर भागने और पीछा कर डोडा पोस्त से भरी कार पकड़़ना व तस्करों के फरार होना बताया था। जबकि जांच में सामने आया था कि पुलिस ने जावाल नदी में नाकाबंदी से फरार तस्करों की कार पीछा कर पकड़ी थी। रमेश फरार हो गया था।

तस्करों को भगाने में लाखों के लेन देन की आशंका

तस्करी के आरोपी दिनेश खींचड़ को पुलिस ने रेस्टोरेंट-ढाबा के पास से पकड़ लिया था। बाद में उसे जावाल-बरलूट नदी के पुल पर नाकाबंदी में निजी बस रोककर बैठा कर भगा दिया था। इन्हें भगाने में लाखों रुपए के लेन-देन की आशंका जताई गई थी। आइजी के आदेशानुसार सीमा जाखड़ और तीनों कांस्टेबल को एसपी ने 26 नवम्बर को बर्खास्त किया था।


यह भी पढ़ें: दोस्त बात बात में छू रहा था पत्नी के गाल, पति ने किया विरोध तो दोस्त ने उठाया खौफनाक कदम


यह भी पढ़ें: नामी कंपनियों के फर्जी वेबसाइट बनाकर ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 2 सदस्य गिरफ्तार


 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
505FansLike
50FollowersFollow
814SubscribersSubscribe

तालाब को गहरा करने के लिए चल रही थी खुदाई, तभी...

मध्यप्रदेश आगर/स्वराज टुडे: मध्यप्रदेश के आगर मालवा के एक तालाब का गहरीकरण किया जा रहा था. JCB से खुदाई की जा रही थी. खुदाई के...

Related News

- Advertisement -